Ramayan

क्या श्रीराम की सेना में अधिकांश वानर देवता या देवताओ के अंश थे?

रामायण के समय सभी देवता धरती पर आये थे ।। माता सीता के रूप में लष्मीजी ने अवतार लिया था तो भ्राता लक्समन के रूप में शेषनाग ने । भरत के रूप में भगवान विष्णु के पांचजन्य शंख धरती पे आये तो उनके सुदर्शन ने शत्रुघ्न के रूप में अवतार लिया ।

जब लंका की धरती पर भीषण संग्राम हुआ, उसमें श्री राम की वानर सेना में जितने भी प्रमुख योद्धा थे, वे सभी किसी न किसी देवता का अंश थे।

1। हनुमान : पवनदेव के पुत्र थे। संकटमोचन, अनन्य राम भक्त जो सीता माँ का पता लाने के लिए विशाल समुद्र लांघ गए और लका दहन जैसा दूभर कार्य किया। लक्ष्मण मूर्छा के समय संजीवनी बूटी लाना और नागपाश से मुक्त करने के लिए गरुड़ को लाना। ऐसे ऐसे करए सिद्ध करने वाले थे महाबली बजरंगबली मारुतिनंदन हनुमान
2। सुग्रीव : सूर्य पुत्र वानर राज
3। अंगद : इंद्र का पौत्र और बाली का बेटा . रावण की सभा में पैर जमाने का वृतांत सब जानते हैं
4। केसरी : ब्रस्पति का पुत्र , जिसने हाथी के रूप में उत्पात मचाने वाले राक्षस सम्मसाधन का वध किया
5। Maind aur द्वीद : अश्विनी कुमार के बेटे
6। गज , गवाक्ष , गवय : यमराज के पुत्र
7। हेमकुंट : वरुणदेव का पुत्र
8। श्वेत और ज्योतिर्मुख : सूर्यदेव के पुत्र
9। जामवंत : ब्रह्मा जब जम्हाई ले रहे थे , तब इनकी उत्पति हुई थी । इनके बड़े भाई का नाम है धूम्र । जामवंत वास् Oldest & wisest among all। (इन्ही की प्रेरणा से हनुमान जी इतना बड़ा विशाल सागर लाँघ कर लंका आये थे ।
10। नल : भगवन विश्वकर्मा के पुत्र जिन्होंने सागर पर सेतु बांधने का कार्य 4 दिन में पूरा किया और इस काम में उनका साथ दिया अग्निदेव के अंश नील ने ।
11। तार : देवगुरु बृहस्पति ने इस विशाल वानर को उत्पन्न किया था ।
12। गंधमादन : कुबेर का पुत्र
13। सुषेण : वरुणदेव का पुत्र
14। शरभ : पर्जन्यदेव के पुत्र

इसी प्रकार कई यक्षों और गन्धर्वो ने अपने अंश को इस महायुद्ध में वानर और रीछ बनाया था । तो दोस्तों, आज के वीडियो में हमने जाना की कैसे सभी देवताओं ने अपने अंश देकर इस भीषण संग्राम में श्री राम की मदद की। हमारा ये प्रयास आपको कैसा लगा, निचे कमेंट बॉक्स में लिखें। और अगर अभी तक इस चैनल को सब्सक्राइब नहीं किया है तो plz इस चैनल को सब्स्क्रिब करें। बेल्ल आइकॉन को दबाये ताकि भविष्य में आपको धरम और संस्कृति से सम्बंधित रोचक जानकारी लगातार मिलती रहे। आज के वीडियो में इतना ही। हम फिर हाज़िर होंगे एक नयी रोचक जानकारी के साथ। तब तक जय श्री राम । भगवान् आप सब क मनोरथ पूर्ण करें।धन्यवाद

9 thoughts on “क्या श्रीराम की सेना में अधिकांश वानर देवता या देवताओ के अंश थे?

  1. I pay a quick visit day-to-day a few web sites and sites to read content, except this web site offers feature based writing. Wally Archambault Strauss

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *